Firefox ब्राउज़र और Apple Safari की तुलना

अगर आप Mac का उपयोग करते हैं या आपके पास iPhone है, तो संभव है कि आप Safari वेब ब्राउज़र से परिचित होंगे। बात यह है कि यह Apple उत्पादों के उपयोगकर्ताओं के लिए तयशुदा ब्राउज़र के तौर पर पहले से ही इंस्टॉल होता है और इससे बेशक इसे एक शुरूआती लाभ मिलता है, लेकिन Firefox की अपनी खुद की उपयोगी विशेषताओं का एक सेट है जो कि इसे एक आकर्षक विकल्प बनाता है और अब इसे आपके Mac और iPhone में तयशुदा ब्राउज़र की तरह सेट किया जा सकता है। यहॉं हम निजता, उपयोगिता और डिवाइसों के बीच पोर्टिबिलिटी के संदर्भ में, हमारे ब्राउज़र और Safari के बीच के मुख्य अंतरों का पता लगाएँगे।

सुरक्षा और निजता

सुरक्षा और निजता Firefox Safari
निजी ब्राउज़िंग मोड हाँ हाँ
अपने-आप ही थर्ड पार्टी ट्रैकिंग कुकीज़ ब्लॉक कर देता है हाँ हाँ
क्रिप्टोमाइनिंग स्क्रिप्ट्स को ब्लॉक कर देता है हाँ नहीं
सोशल ट्रैकर्स को ब्लॉक कर देता है हाँ हाँ

टैक कंपनियों के लिए निजता इन दिनों एक बातचीत का विषय है, क्योंकि उन्होंने इस बात को महसूस किया है कि अधिकतर लोग डेटा की निजता के उल्लंघन, ऐड ट्रैकर्स और हैकर्स को लेकर अधिक असुरक्षित महसूस कर रहे हैं। लेकिन जब बात आती है वास्तविक इंटरवेब्स को नेविगेट करने के लिए लोगों की ओर से उपयोग किए जाने वाले असल टूल्स की, तो क्या वे केवल बातें भर कर रहे हैं या फिर वे अपने डेटा को सुरक्षित बनाने के लिए वास्तव कोई कदम उठा रहे हैं?

जैसा कि पहले भी कहा गया है, Apple उन कंपनियों में से एक है जिसने हाल ही में यह तय किया है कि वह अपने निजता के खेल को आगे बढ़ाएगा। अभी बहुत समय नहीं हुआ, Apple ने Safari में क्रॉस-साइट ट्रैकिंग पर रोक लगाई थी, जो कि पूरे इंटरनेट में विज्ञापनों को आपका पीछा करने से रोकती है। जब आप किसी वेबसाइट में नए एकाउंट के लिए साइन अप करते हैं तो Safari एक मज़बूत पासवर्ड की पेशकश करता है। और अगर आपने iCloud परितंत्र में निवेश किया हुआ है तो, यह आपकी दूसरी डिवाइसों में सुरक्षित तरीके से आपके पासवर्ड को सिंक करता है।

Safari की तरह हमने Firefox में निजता और सुरक्षा पर ध्यान केंद्रित किया है। लेकिन Safari के विपरीत, हम लंबे समय से निजता का मुद्दा उठा रहे हैं। वास्तव में, Mozilla (हमारी मूल कंपनी) टैक समुदाय में ऑनलाइन निजता के लिए सतर्क करने वाली पहली आवाज़ों में से एक थी।

जब भी आप हमारा निजी ब्राउज़िंग मोड बंद करते हैं, यह ट्रैकर्स को ब्लॉक करता है और आपके पासवर्ड्स, कुकीज़ और इतिहास को मिटा देता है। लेकिन आप नियमित ब्राउज़िंग मोड में भी हमारी उन्नत निजता सुविधाओं का अनुभव कर सकते हैं। Firefox के नवीनतम एडिशन में, तयशुदा रूप से एन्हेंस्ड ट्रैकिंग रोकथाम चालू है। जब आप वेब में यहॉं-वहॉं घूम रहे हों तो यह क्रॉस-साइट ट्रैकर्स को आपकी निगरानी करने जैसी चीज़ों से रोकती है। साथ ही, क्योंकि Facebook तकरीबन हर रोज़ निजता में गड़बड़ करते हुए पाया जाता है, ऐसे में हमारे Facebook Container एक्सटेंशन के अधिक मायने हैं। यह Facebook के लिए वेब में आपको ट्रैक कर पाना मुश्किल बनाता है — यह वैसा ही है जैसे Safari क्रॉस-साइट ट्रैकिंग को रोकता है — लेकिन Firefox असल में आपके Facebook सेशन को एक अलग कंटेनर में अकेला कर देता है जिससे कि Facebook आप दूसरी वैबसाइट्स में क्या कर रहे हैं, यह ट्रैक कर पाने से ब्लॉक हो जाता है। आप WebMD में क्या देखते हैं, उन्हें यह जानने की ज़रूरत क्या है?

जहाँ तक सुरक्षा का मामला है Firefox वहाँ भी मज़बूत है। जब भी आप Firefox में हों, आप पासवर्ड भरें विकल्प का उपयोग करते हुए पासवर्ड फ़ील्ड में राइट-क्लिक कर सुरक्षित तरीके से एक मज़बूत पासवर्ड उत्पन्न कर सकते हैं। जब आप अपना नया पासवर्ड सेव करते हैं हम आपको इसके बिल्ट-इन पासवर्ड मैनेजर, Lockwise में इसे सेव करने का संकेत देते हैं। हम उपयोगकर्ताओं और एकाउंट मालिकों को, Monitor नाम के एक और मुफ़्त और उपयोगी उत्पाद के ज़रिए सेवा देते हैं। अगर आपका डेटा किसी ज्ञात डेटा उल्लंघन में शामिल हो तो यह आपको स्वतः चेतावनी देता है।

अगर आप Safari का उपयोग करना चुनते हैं तो जब तक आप Apple का उपयोग कर रहे हैं आप सुरक्षित हाथों में हैं। लेकिन Safari केवल Apple डिवाइसों के साथ ही काम करता है, जबकि Firefox, Windows, macOS, iOS, Android, और Linux के साथ काम करता है। इसलिए कोई फ़र्क नहीं पड़ता कि आप कौन सा ऑपरेटिंग सिस्टम चुनते हैं, Firefox ने आपको हमारे सुरक्षा और निजता संरक्षण के साथ कवर किया हुआ है।

Firefox ब्राउज़र डाउनलोड करें

उपयोगिता

उपयोगिता Firefox Safari
ऑटोप्‍ले को ब्लॉक कर देता है हाँ नहीं
टैब ब्राउज़िंग हाँ हाँ
बुकमार्क प्रबंधक हाँ हाँ
स्वतः फ़ॉर्म भरता है हाँ हाँ
खोज इंजन विकल्प हाँ हाँ
बोलने के लिए टैक्स्ट हाँ हाँ
रीडर मोड हाँ हाँ
वर्तनी जांच हाँ हाँ
वेब एक्सटेंशन/ऐड-ऑन हाँ हाँ
इन-ब्राउज़र स्क्रीनशॉट टूल हाँ नहीं

Apple को विस्तृत तौर पर इसके बंद परितंत्र के लिए जाना जाता है क्योंकि यह अपने उत्पादों के लिए अपने आप ही सॉफ़्टवेयर बनाता है। लेकिन ब्राउज़र को और अधिक मज़बूत बनाने के लिए यह App Store के भीतर, डिवेलपर्स को एक सेक्शन पेश करता है ताकि वे प्लगइंस और ऐड-ऑन बना सकें। ये एक्स्टेंशंस भी App Store के ज़रिए ब्राउज़ करने और आसानी से Safari में जोड़ने योग्य होते हैं।

किसी ब्राउज़र में आपकी ओर से सुविधाओं के जिस आम सेट की अपेक्षा होती है जैसे कि टैब्ड ब्राउज़िंग और निजी ब्राउज़िंग, इसके अलावा भी Safari में कई अप्रत्याशित विशेषताएँ भी हैं। उदाहरण के लिए, अगर कोई उपयोगकर्ता Safari में पेज के भीतर कहीं पर भी मौजूद किसी शब्द पर राइट-क्लिक करता है, और फिर 'ढूँढें' पर क्लिक करता है तो उसे उस शब्द से जुड़ी, शब्दकोष में दर्ज परिभाषा और प्रविष्टियॉं, App Store, फ़िल्में और भी चीज़ें मिलती हैं। Safari के पैरेंटल कंट्रोल, कस्टमाइज़ करने में आसान हैं। इससे वयस्कों को उस स्थिति में राहत की सॉंस मिलती हैं जब बच्चे इंटरनेट के बारे में रुचि दिखाने लगते हैं।

Safari की तरह Firefox भी अपने उत्साही डिवेलपर समुदाय को ब्राउज़र में ऐड ऑन और एक्स्टेंशंस बनाने के लिए प्रोत्साहित करता है। और क्योंकि हमारा प्लेटफ़ॉर्म ओपन-सोर्स है, तो ऐसा एक बड़ा तबका है जो कि फंक्शनलिटी के खज़ाने को जोड़ रहा है।

साथ ही, जब आप Firefox के लिए साइन अप करते हैं, आपको विशेष सेवाएँ मिलती हैं जैसे Pocket जो कि सीधे आपके ब्राउज़र में शामिल हो जाता है। Firefox बटन के लिए Pocket के ज़रिए आप वेब पेज़ों और विडियोज़ को महज़ एक क्लिक में Pocket में सेव कर सकते हैं, ताकि आप जब भी और जहॉं भी चाहें, स्पष्ट और तसल्ली के साथ पढ़ सकें, यहॉं तक कि ऑफ़लाइन भी।

Firefox विडियो और ऑडियो के लिए भी बहुत अच्छा है। सीधे ब्राउज़र में बनाई गई और ख़ुद से ऑन हो जाने वाली ऑटोप्ले ब्लॉकिंग के साथ कोई भी वेबसाइट बिना आपकी इच्छा के नहीं खुल पाएगी।

स्क्रीनशॉट एक ऐसी सुविधा है जो कि सीधे Firefox ब्राउज़र में बनी हुई है। यह आपको आसानी से आपकी स्क्रीन पर दिख रही तस्वीर को उतारने देती है। जब आप कोई स्क्रीनशॉट लेते हैं, तो आप फ़ाइल को कॉपी करने का चयन कर सकते हैं या फिर उस फ़ोल्डर को चुन सकते हैं जिसमें आप इसे ढूँढना चाहें, बजाय अपने डेस्कटॉप को अस्त-व्यस्त करने के।

दोनों ब्राउज़रों में कई क्रॉसओवर विशेषताएँ हैं, साथ ही साथ कुछ विशिष्ट फ़ंक्शन भी हैं। यह ज़िक्र करने लायक है, यदि आप बहुत सारे स्क्रीनशॉट लेते हैं, तो आपको आश्चर्य होगा कि आप अब तक इस आसान विशेषता के बिना कैसे रहते थे जो कि Firefox में बनाया गया है। लेकिन अगर आप केवल सर्फ़िंग और शॉपिंग के लिए एक तेज़, निजी ब्राउज़र की तलाश कर रहे हैं, तो आप Firefox को आज़मा सकते हैं - खासकर तब जब आप विशेष रूप से Safari का उपयोग कर रहे हों क्योंकि यह आपके कंप्यूटर में तयशुदा ब्राउज़र के रूप में प्रीलोडेड आया है। आखिरकार, आपको पता चल जाएगा कि कौन सा आपकी आवश्यकताओं के अनुकूल है।

Firefox ब्राउज़र डाउनलोड करें

पोर्टेबिलिटी

पोर्टेबिलिटी Firefox Safari
OS उपलब्धता हाँ नहीं
मोबाइल OS उपलब्धता हाँ नहीं
मोबाइल के साथ सिंक करता है हाँ हाँ
पासवर्ड प्रबंधक हाँ हाँ
मुख्य पासवर्ड हाँ नहीं

Firefox और Safari दोनों डेस्कटॉप से मोबाइल ब्राउज़िंग या फिर ठीक इसके विपरीत जाने पर एक सहज अनुभव प्रदान करते हैं। Safari के लिए इसकी मुख्य क्षमताओं में से एक इसकी निरंतरता विशेषता है। यह आपके बुकमार्क्स, टैब्स, इतिहास और भी कई चीज़ों को iCloud से सिंक करता है ताकि ये आपकी डिवाइसों में उपलब्ध रहें। इसका मतलब यह है कि आप अपने iPhone में एक टैब खोल सकते हैं और यही टैब बस एक क्लिक में आपके macOS लैपटॉप में भी दिखाई देगा।

जब आप एक नि:शुल्क Firefox Account के लिए साइन अप करते हैं तो Firefox भी एक इसी तरह की सिंक विशेषता उपलब्ध कराता है जो कि उपयोगकर्ताओं को आसानी से अपने बुकमार्क्स, ब्राउज़िंग इतिहास, वरीयता, पासवर्ड, भरे हुए फ़ॉर्म्स, ऐड-ऑन और आखिर में खोले गए 25 टैब्स को एक साथ कई कंप्यूटरों में सिंक्रोनाइज़ करने के लिए सक्षम बनाता है। Firefox को जो चीज़ Safari से अलग करती है वह है कि यह किसी भी डेस्कटॉप या मोबाइल प्लेटफ़ॉर्म, iOS, Android, Windows या macOS पर उपलब्ध है। आपके पास कोई भी डिवाइस हो, इसका उपयोग कर सकते हैं।

iOS और Android लिए Firefox ऐप, उपलब्ध सबसे तेज़ ब्राउज़रों में से एक है और इसमें मज़बूत सुरक्षा और एंटी-ट्रैकिंग विशेषताएँ भी हैं — अगर आप लगातार लैपटॉप और मोबाइल दोनों ही डिवाइस का उपयोग कर रहे हैं, तो यह एक बड़ी सुविधा है।

क्योंकि Safari, Apple की मिल्कियत वाला वेब ब्राउज़र है, इसलिए इसका iCloud सिंकिंग विशेष रूप से Apple उत्पादों के साथ ही काम करता है। यह एक तरह से यह सीमित करता है, उदाहरण के लिए आप Android और iPhone दोनों के उपयोगकर्ता हैं या अगर आपके पास काम के लिए Windows आधारित कंप्यूटर है लेकिन आप अपनी निजी डिवाइस के तौर पर iPhone का उपयोग करते हैं।

Firefox ब्राउज़र डाउनलोड करें

संपूर्ण विश्लेषण

अगर आप Apple उपयोगकर्ता हैं और आपके पास कई Apple उत्पाद हैं तो Safari ने ब्राउज़िंग अनुभव को आसान, तेज़ और निर्बाध बना कर एक गजब का काम किया है। जैसे Safari, Firefox एक तेज़ और उपयोगी ब्राउज़र है, लेकिन निजता और क्रॉस-प्लेटफ़ार्म कम्पैटिब्लिटी हमें परिभाषित करने वाली विशेषताएँ हैं। Firefox हर महीने नई सुविधाओं और कार्यक्षमता के साथ अपडेट होता है। उदाहरण के लिए, एक हालिया अपडेट ने हमारे उन्नत ट्रैकिंग सुरक्षा (NCSA) को नए उपयोगकर्ताओं के लिए तयशुदा रूप से स्विच कर दिया है, जो कि कुकीज़ और क्रॉस साइट ट्रैकर्स को प्रभावशाली तौर पर ब्लॉक करता है।

आखिर में बात इसपर आती है कि आप अपने ब्राउज़र में किस बात को महत्व देते हैं। अगर आप Apple परितंत्र का हिस्सा हैं, फिर Safari आपके लिए एक बेहतरीन चुनाव है। लेकिन अगर आप नवीनतम और सबसे बढ़िया निजता सुरक्षा को महत्व देते हैं और चाहते हैं कि आप कई ऑपरेटिंग सिस्टम्स पर काम कर सकें, तो हम समझते हैं कि Firefox आपके लिए सबसे बेहतर साबित होगा। Apple का विशेष रूप से उपयोग करने वाले उपयोगकर्ताओं के लिए Firefox एक दूसरे ब्राउज़र के तौर पर भी मज़बूत विकल्प हो सकता है, जो कि उन ऑनलाइन लम्हों के लिए एक दूसरे ब्राउज़र पर स्विच करना चाह रहे हों, जिसके लिए निजता सुरक्षा की अतिरिक्त परतों की ज़रूरत होती है।

तयशुदा सेटिंग और सभी ब्राउज़र्स के रिलीज़ संस्करणों की यहॉं निम्नलिखित तुलना की गई थी :
Firefox (81) | Safari (14)
इस पेज़ को नवीनतम संस्करणों को दिखाने के लिए डेढ़ महीने पर अपडेट किया जाता है और हो सकता है कि यह हमेशा नवीनतम अपडेटों को ही ना दिखाए।