निजता। उपयोगिता। पोर्टेबिलिटी।

सात सबसे बढ़िया ब्राउज़र्स की सीधी तुलना

क्या बेहतर ब्राउज़र की तलाश में हैं? हम Firefox की तुलना Chrome, Edge, Safari, Opera, Brave और Internet Explorer के साथ करके आपको निर्णय लेने में सहायता करते हैं।

जिन फ़ंक्शनलिटीज़ की आपको ज़रूरत है, सभी डिवाइसों में पोर्ट कर सकने की क्षमता और जिस निजता के आप हकदार हैं, ये सभी चीज़ें एक बेहतरीन ब्राउज़र में होनी चाहिए।

क्योंकि आपका ब्राउज़र आपके इंटरनेट का गेटवे है इसलिए गति, सुरक्षा, निजता और उपयोगिता, सब चीज़ों से ऊपर है। हाल के सालों में, Google Chrome कई लोगों की पसंद का ब्राउज़र बना है। लेकिन जिस दौर में ऑनलाइन विज्ञापन हर जगह हमारा पीछा करते महसूस हो रहे हों और डेटा उल्लंघनों, समाचारों की सुर्खियों में नियमित तौर पर आ रहे हों, कई लोग अब अपने ब्राउज़र्स से और अधिक निजता और सम्मान की मांग कर रहे हैं।

तो क्या आपका ब्राउज़र क्या जो आप ऑनलाइन करते हैं उसके लिए सबसे बेहतर है? एक सही ब्राउज़र आपके वेब के अनुभव में एक बड़ा बदलाव ला सकता है। इसलिए, बिना देर किए, आइए तुलना करते हैं, Google Chrome, Firefox, Safari, Opera, Brave, Microsoft Internet Explorer और Edge की — और देखते हैं आपकी ज़रूरतों के लिहाज़ से सबसे बेहतर कौन है।

सुरक्षा और निजता

कौन सा ब्राउज़र चीजों को गोपनीय रखने में सबसे अच्छा है?

सुरक्षा और निजता Firefox Chrome Edge Safari Opera Brave Internet Explorer
निजी ब्राउज़िंग मोड हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ
अपने-आप ही थर्ड पार्टी ट्रैकिंग कुकीज़ ब्लॉक कर देता है हाँ नहीं हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ
क्रिप्टोमाइनिंग स्क्रिप्ट्स को ब्लॉक कर देता है हाँ नहीं हाँ नहीं हाँ हाँ नहीं
सोशल ट्रैकर्स को ब्लॉक कर देता है हाँ नहीं हाँ हाँ नहीं हाँ नहीं

जिन उत्पादों का हम नियमित तौर पर ऑनलाइन जाने के लिए उपयोग करते हैं, उनसे उच्च स्तर की डेटा सुरक्षा और निजता की उम्मीद करना अनुचित नहीं है। कम से कम किसी ब्राउज़र को ''निजी ब्राउज़िंग मोड'' के कुछ संस्करण तो उपलब्ध कराने ही चाहिए जो कि अपने आप आपके इतिहास और खोज इतिहास को मिटा दें ताकि उसी कंप्यूटर पर अन्य उपयोगकर्ता उस तक ना पहुंच सकें। इस जगह में, यहॉं तुलना किए गए सभी सात ब्राउज़र्स पॉइंट बनाते हैं।

आप ऑनलाइन क्या करते हैं इससे किसी दूसरे को कोई मतलब नहीं होना चाहिए।

एक अन्य ब्राउज़र सुविधा जो दी जानी चाहिए, वह है वेबसाइटों और कंपनियों को आपकी ब्राउज़िंग और शॉपिंग से जुड़े डेटा को ट्रैक करने से रोकने की क्षमता- यहॉं तक कि सामान्य ब्राउज़िंग मोड में भी।

ऐसे ब्राउज़र का उपयोग करना जो कि तृतीय-पक्ष ट्रैकर्स को ब्लॉक करता है महज़ निजता के लिहाज़ से ही महत्वपूर्ण नहीं है — जबकि आम तौर पर इसका मतलब यह भी है कि यह और भी तेज़ चलता है। अधिकतर ट्रैकर्स केवल ऐसी स्क्रिप्ट होती हैं जो कि कई वेबसाइटों में बैकग्राउंड में चलती हैं। आप इन्हें देख नहीं सकते लेकिन आप इन्हें आपके ब्राउज़र को धीमा करता हुआ महसूस कर सकते हैं। Firefox के 67 संस्करण तक फ़िंगरप्रिंटिंग और क्रिप्टोमाइनर्स को भी ब्लॉक कर दिया गया है। यदि आप क्रिप्टोमाइनर्स के बारे में नहीं जानते तो यहॉं एक उदाहरण दिया गया है कि यह कैसे आपको प्रभावित कर सकते हैं। हो सकता है कि आपने अनुभव किया हो कि आपका कंप्यूटर अचानक से गर्म हो जाता है या फिर बैट्री सामान्य से अधिक तेज़ी से समाप्त होने लगती है। यह अक्सर तब होता है जब क्रिप्टोमाइनर्स आपकी डिवाइस के आसपास होते हैं।

उपयोगिता

आपके ब्राउज़र ने आपके लिए क्या देर से किया है?

उपयोगिता Firefox Chrome Edge Safari Opera Brave Internet Explorer
ऑटोप्‍ले को ब्लॉक कर देता है हाँ नहीं हाँ नहीं नहीं हाँ नहीं
टैब ब्राउज़िंग हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ
बुकमार्क प्रबंधक हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ
स्वतः फ़ॉर्म भरता है हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ
खोज इंजन विकल्प हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ
बोलने के लिए टैक्स्ट हाँ नहीं हाँ हाँ नहीं नहीं हाँ
रीडर मोड हाँ हाँ हाँ हाँ नहीं हाँ हाँ
वर्तनी जांच हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ
वेब एक्सटेंशन/ऐड-ऑन हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ
इन-ब्राउज़र स्क्रीनशॉट टूल हाँ नहीं हाँ नहीं हाँ नहीं नहीं

निजता के संरक्षण के अतिरिक्त, ब्राउज़र के बैकग्राउंड में जो चीज़ सबसे अधिक जगह लेती है, वह है किसी भी अच्छी तरह बने ब्राउज़र का एक और महत्वपूर्ण अवयव, वास्तविक उपयोगकर्ता इंटरफ़ेस और फ़ंक्शनलिटी। जब बात टैब ब्राउज़िंग, बुकमार्क मैनेजमेंट, ऑटो कंप्लीशन, प्रूफ़रीडिंग और एक्सटेंशन की आती है तो तकरीबन सभी सातों ब्राउज़र्स बराबर हैं। Firefox, Edge और Opera एक तेज़ स्क्रीनशॉट विकल्प भी देते हैं जो कि बहुत आसान है। और यदि आप किसी ऐसे ब्राउज़र का उपयोग करते हैं जिसमें यह सुविधा नहीं मौजूद तो आप ज़रूर इसकी कमी महसूस करेंगे।

पोर्टेबिलिटी

आपका ब्राउज़र आपके डिवाइस पर कितनी अच्छी तरह काम करता है?

पोर्टेबिलिटी Firefox Chrome Edge Safari Opera Brave Internet Explorer
OS उपलब्धता हाँ हाँ हाँ नहीं हाँ हाँ नहीं
मोबाइल OS उपलब्धता हाँ हाँ हाँ नहीं हाँ हाँ नहीं
मोबाइल के साथ सिंक करता है हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ नहीं
पासवर्ड प्रबंधक हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ हाँ
मुख्य पासवर्ड हाँ नहीं हाँ नहीं हाँ नहीं नहीं

पोर्टिबिलिटी के बारे में ध्यान देने से पहले जो पहली चीज़ है वह यह है कि सारे ऑपरेटिंग सिस्टम्स में सभी ब्राउज़र्स नहीं चलते हैं। हालांकि, Firefox, Chrome, Edge, Brave, और Opera सभी महत्वपूर्ण सिस्टम्स में काम करते हैं और इंस्टॉल करने में आसान हैं, Internet Explorer और Safari केवल Microsoft और Apple के अपने सिस्टम में काम करते हैं। Safari का मोबाइल संस्करण Apple मोबाइल डिवाइसों में पहले से ही इंस्टॉल रहता है और अधिकतर Android डिवाइस एक पहले से ही इंस्टॉल ब्राउज़र के साथ आती हैं जिसे डिवाइस के निर्माता ने संशोधित किया है। Firefox, Chrome, Brave, Edge और Opera को आसानी से इंस्टॉल किया जा सकता है और एक साथ उपयोग भी किया जा सकता है।

यहॉं तुलना किए गए तकरीबन सारे ही ब्राउज़र्स डेस्कटॉप और मोबाइल डिवाइस के बीच सिंक्रोनाइजेशन की अनुमति देते हैं। आपको ऐसा करने के लिए एक एकाउंट की ज़रूरत होगी, जिसे आप हर एक डिवाइस में ब्राउज़र में लॉग इन करने और चीज़ों को सिंक्रोनाइज़ करने के लिए उपयोग कर सकते हैं, जैसे कि पासवर्ड, ब्राउज़िंग इतिहास, बुकमार्क और सेटिंग्स।

निष्कर्ष :

और विजेता है…

जो मानदंड हमने तय किए थे — निजता, उपयोगिता और पोर्टेबिलिटी — वास्तव में एक मात्र ब्राउज़र है जो कि इन्हें पूरा करता है और वह है Firefox। अंतर का जो वास्तविक क्षेत्र है वह फ़ंक्शनलिटी नहीं है बल्कि निजता है। Firefox सबसे निजी ब्राउज़र है जो कि आपको किसी एक परितंत्र में बंद नहीं करता है। इसे अपनी सभी डिवाइस में, किसी भी ऑपरेटिंग सिस्टम में उपयोग करें और सुरक्षित महसूस करें।

Chrome को शुरू करने और बाज़ार में इसकी हिस्सेदारी संभालने के बाद से अब ब्राउज़र्स बहुत आगे आ चुके हैं। अधिकतर आधुनिक ब्राउज़र्स ने पोर्टेबिलिटी और फ़ंक्शनलिटी की दूरियों को पाट दिया है और कुछ क्षेत्रों में, जैसे कि गति और निजता में वास्तव में Chrome को पीछे छोड़ दिया है। अब भी, यह निर्धारित करने में कि कौन सा ब्राउज़र आपके लिए ठीक है आप हमेशा इस बात पर निर्भर रहेंगे कि आपकी व्यक्तिगत आवश्यकताएँ क्या हैं और जब ऑनलाइन होते हैं तो आप किस चीज़ को सबसे अधिक महत्व देते हैं।

तयशुदा सेटिंग और सभी ब्राउज़र्स के रिलीज़ संस्करणों की यहॉं निम्नलिखित तुलना की गई थी :
Firefox (81) | Chrome (85) | Edge (85) | Safari (14) | Opera (67) | Internet Explorer (11) | Brave (1.14.81)
इस पेज़ को नवीनतम संस्करणों को दिखाने के लिए डेढ़ महीने पर अपडेट किया जाता है और हो सकता है कि यह हमेशा नवीनतम अपडेटों को ही ना दिखाए।

Firefox गैर-लाभ संगठन Mozilla द्वारा समर्थित है।

जो भी हम बनाते हैं और करते हैं उसमें Firefox आपकी निजता को प्राथमिकता देता है। हम मानते हैं कि आपके पास यह निर्धारित करने का अधिकार है कि आप किसके साथ अपनी निजी जानकारी को साझा करते हैं। Firefox जितना संभव हो उतना कम डेटा एकत्र करता है और इसे कभी नहीं बेचता है। कम से कम डेटा जुटाता है और इसे कभी नहीं बेचता है। कोई सीक्रेट नहीं। लेकिन ढेर सारी पारदर्शिता और वास्तविक निजता।