ऐड ब्लॉकर – परेशान करने वाले विज्ञापनों से लड़ने के लिए एक सीक्रेट हथियार।

इतने सारे विज्ञापन, कब तक बर्दाश्त करें... इस पागलपन को रोकना ही होगा।

एक व्यक्ति एक दिन में औसतन 4,000 विज्ञापन देखता है। अगर आपको ये संख्या बहुत ज़्यादा लगती है, तो ऐड ब्लॉकर आपका नया साथी है।

ऐड ब्लॉकर वह सॉफ़्टवेयर है जो विज्ञापनों को ब्लॉक करता है, और यह दो तरीकों से काम करता है। पहला तरीका यह है कि ऐड ब्लॉकर विज्ञापनदाता के सर्वर से सिग्नल को पहले ही ब्लॉक कर देता है, जिससे विज्ञापन आपके पेज पर कभी नज़र नहीं आता। दूसरा तरीका यह है कि ऐड ब्लॉकर, वेबसाइट के कुछ सेक्शन ब्लॉक कर देता है। ये ऐसे सेक्शन होते हैं जिनमें शायद विज्ञापन मौजूद हों।

हो सकता है कि इन विज्ञापनों में तेज़ आवाज़ वाले विज्ञापन, इंटरनेट पर आपकी गतिविधि का पीछा करने वाले विज्ञापन, ट्रैकर, थर्ड-पार्टी कुकीज़ व अन्य चीज़ें हों। ऐड ब्लॉकर इस्तेमाल करने के लिए, आप अपने ब्राउज़र के लिए उपलब्ध ऐड-ब्लॉकर ऐड-ऑन ढूँढ़ सकते हैं। जैसे कि Firefox में स्वीकृत किए गए ऐड-ब्लॉकर वाले ऐड-ऑन की सूची मौजूद है। इस सूची पर क्लिक करें (या ऐसे ऐड-ब्लॉकर जिन्हें आपके ब्राउज़र के लिए स्वीकृत किया गया है) और देखें कि आपकी ज़रूरत के हिसाब से क्या सही है।

अपने लिए सही ऐड ब्लॉकर पाएँ

AdBlocker Ultimate हर विज्ञापन को दूर कर देगा, मगर खरीदने से पहले सावधान रहें। आपके कुछ पसंदीदा अखबार और मैगजीन विज्ञापनों पर निर्भर रहते हैं। अगर बहुत ज़्यादा लोग विज्ञापन ब्लॉक करने लगेंगे, तो उनका बिज़नेस एकदम चौपट हो जाएगा।

पॉप-अप विज्ञापन सबसे बुरे होते हैं। पॉप-अप ब्लॉकर से उन्हें ब्लॉक करें और परेशान करने वाले पॉप-अप से छुटकारा पाएँ।

Chrome, Safari और Firefox के सबसे लोकप्रिय ऐड-ब्लॉकर में से एक है: AdBlock। इसकी मदद से Facebook, YouTube और Hulu में विज्ञापन ब्लॉक करें।

कंटेंट ब्लॉकिंग के साथ ट्रैकर-फ़्री ज़ोन बनाएँ

Firefox में, आप निजता या कंटेंट ब्लॉकिंग सेटिंग के ज़रिए उन ट्रैकर्स पर और ज़्यादा नियंत्रण रख सकते हैं जो आपको विज्ञापन प्रदान करते हैं।

सुरक्षा का अपना स्तर चुनें

शुरू करने के लिए, अपनी स्क्रीन के ऊपरी दाएँ हिस्से में Firefox मेनू पर क्लिक करें। यह एक के ऊपर एक बनी तीन लाइन जैसा दिखाई देता है। ड्रॉप-डाउन मेनू में, कंटेंट ब्लॉकिंग पर क्लिक करें। आपको चयन के अलग-अलग विकल्पों वाला एक नीले रंग का पॉप-अप दिखाई देगा।

स्टैंडर्ड मोड के साथ हल्की-फ़ुल्की सुरक्षा पाएँ

अगर विज्ञापन आपको बहुत तंग नहीं करते और ट्रैकर या थर्ड-पार्टी कुकीज़ द्वारा आपको ट्रैक किए जाने से आपको कोई दिक्कत नहीं है, तो स्टैंडर्ड सेटिंग आपके लिए बढ़िया रहेगी। अगर आप चाहते हैं कि स्टैंडर्ड मोड में ट्रैकर आपकी गतिविधि ट्रैक न कर पाएँ, तो प्राइवेट ब्राउज़िंग वाली विंडो इस्तेमाल करें।

सख़्त मोड के साथ बेहतर सुरक्षा पाएँ

अगर दिनभर में बहुत सारे विज्ञापन मिलने से आपका मूड खराब होता है, तो सख़्त मोड आपके लिए बेहतर रहेगा। यह मोड सभी Firefox विंडो में, पहले से ज्ञात थर्ड-पार्टी ट्रैकर और कुकीज़ को ब्लॉक करता है।

खुद सेट किए जाने लायक कस्टम मोड

कस्टम सेटिंग आपको भरपूर विकल्प देती है। आप तय कर पाएँगे कि आप क्या ब्लॉक करना चाहते हैं। इसमें ट्रैकर, कुकीज़ व अन्य चीज़ें शामिल हैं। अगर आप किसी वेबसाइट से कुकीज़ को अनुमति देते हैं, तो आप अपने आप कस्टम मोड में आ जाएँगे।

अपनी ऑनलाइन गतिविधि छुपाएँ, ट्रैकर्स को ब्लॉक करें

ट्रैकर वाले बॉक्स पर क्लिक करें और आप दो तरीकों से ट्रैकर्स को ब्लॉक कर पाएँगे। एक तरीका है, किसी प्राइवेट विंडो में काम करते समय ट्रैकर ब्लॉक करना। दूसरा तरीका है, सभी विंडो में ट्रैकर ब्लॉक करना। याद रखें कि अगर आप ट्रैकर हमेशा के लिए ब्लॉक करने का विकल्प चुनेंगे, तो हो सकता है कि कुछ पेज ठीक से लोड न हों।

कुकीज़ की छुट्टी करें

आप जिन वेबसाइटों पर जाते हैं, वे आपको कुकीज़ भेजती हैं। ये आपके कंप्यूटर में ही रहती हैं और आप किसी वेबसाइट पर क्या-क्या करते हैं, इस पर नज़र रखती हैं। आपने दिन में एक बार हवाई-यात्रा का टिकट देखा और अगली बार देखने तक एयरलाइन ने किराया बढ़ा दिया। यह सब कुकीज़ की करामात है।

Firefox में, आप सभी थर्ड-पार्टी कुकीज़ ब्लॉक कर सकते हैं या सिर्फ़ ट्रैकर द्वारा सेट की गईं कुकीज़ ब्लॉक कर सकते हैं। ध्यान रखें, सभी कुकीज़ ब्लॉक करने से हो सकता है कि कुछ वेबसाइटें ठीक से काम न करें।

‘ट्रैक न करें’ सिग्नल भेजें

अगर आप चाहते हैं कि आपकी ऑनलाइन गतिविधि को विज्ञापनों के लिए इस्तेमाल न किया जाए, तो आप Firefox के ट्रैक न करें विकल्प को चुनकर वेबसाइटों को ट्रैक न करने का विनम्र संदेश दे सकते हैं। इसमें हिस्सा लेना या न लेना उनकी मर्ज़ी है, मगर जो वेबसाइटें इसका हिस्सा बनेंगी वे तुरंत आपकी ट्रैकिंग करना बंद कर देंगी।

ऐड ब्लॉकर की मदद से स्पीड में बढ़ोत्तरी

कुछ मामलों में, ऐड ब्लॉकर होने से आपके ब्राउज़र की स्पीड तेज़ हो सकती है। विज्ञापन लोड होने से, वेबसाइट लोड होने की स्पीड धीमी हो सकती है। और अगर आपको बार-बार विज्ञापन बंद करने पड़ते हैं, तो आप इंटरनेट पर जो ढूँढ रहे हैं, उसे पाने में ज़्यादा समय लगेगा।

अगर आप विज्ञापन ब्लॉक करने के बारे में और जानना चाहते हैं, तो Firefox और अन्य ब्राउज़र्स के लिए हज़ारों ऐड-ब्लॉकर एक्सटेंशन उपलब्ध हैं। अगर आप Firefox में इस्तेमाल किए जाने वाले ऐड-ब्लॉकर आज़माना चाहते हैं, तो यहाँ क्लिक करें और अपनी निजता को सर्वोपरि रखने वाला ब्राउज़र डाउनलोड करें।

अपने ब्राउज़र का नियंत्रण अपने हाथ में लें।